Domain name क्या है? definition /what is domain name in hindi

what is domain name definition in hindi

आप google पर कोई ना कोई वेबसाइट सर्च करते हैं वो वेबसाइट एक domain name होती है. क्या आपको पता है कि Domain Name क्या है? ये कैसे काम करता है? आज हम  आपको what is domain name in hindi की definition इस पोस्ट step by step देंगे. आप अगर internet की दुनिया में अभी कदम रखा है आप जरूर इसके बारे में जानकारी लेना चाहतें हैं कि -डोमेन नाम क्या होता है.


"डोमेन नेम स्पेस एक वृक्ष होता है जो अपने अंदर डोमेन नामों को लिए होता है. जिसमें हम domain name चुनते हैं. ज़ब आप  *ब्‍लॉगर ( *Blogger) और #वर्डप्रेस ( *WordPress ) अपनी *वेबसाइट बनाते हैं तब आपको एक best domain name की जरूरत होती है जिसे आप इन होस्टिंग में use कर सकतें हैं."

एक डोमेन नाम अपनी स्ट्रिंग पहचान के रूप में जाना जाता है जो इंटरनेट में IP adress को कन्वर्ट करके आपको एक वेबसाइट के नाम के रूप में show कराता है.


Domain name क्या है? /what is domain name in hindi blog?

Domain name क्या है?,what is domain name in hindi,DNS का फुल फॉर्म क्या है?,डोमेन नाम रजिस्ट्रेशन,डोमेन का मतलब,Dns क्या है,डोमेन नाम example,डोमेन कितने प्रकार के होते हैं?.
Domain name क्या है

तो आज हम इसी टॉपिक पर आपको जानकारी देंगे. ज़ब भी आप internet में किसी वेबसाइट को search करते हैं, तो वेबसाइट में www आता है उसके बाद उस वेबसाइट का नाम आता है फिर बाद   (. COM) आता है, तो में आपको बड़ा दूं कि www तो web हो गया और website का नाम  और (. COM) उसका domain हो जाता है जैसे - Facebook.com, Youtube.com, Google.com आदि सभी जाने माने डोमेन नेम हैं.

Read more :

हर वेबसाइट के नाम का एक IP address होता है लेकिन उस ip adress को दिखा नहीं सकतें क्योंकि ये एक नम्बर के रूप में होता है इसलिए सर्च इंजन में उस वेबसाइट का नाम को दिखाते हैं,जो एक domain होता है.

जब घरो में लैंडलाइन फ़ोन का use होता था और उसके बगल में एक डायरी रखी होती थी जिसमें आपके करीब लोगों का नंबर होता था जिसे डायरी में लिखते थे लेकिन ज़ब से मोबाइल फोन आये हैं तब से इन डायरी में फोन नम्बर सेव नहीं होता. अब सारा काम आपका मोबाइल फोन करता है.

अब हम किसी का भी नम्बर मोबाइल फोन में सेव कर सकतें हैं इसी प्रकार डोमेन नेम भी यही काम करता है. ज़ब हम किसी वेबसाइट नाम को search करते हैं तो आपको बता दें कि वेबसाइट के नाम के पीछे गणतीय अंक छिपे होतें हैं जिसको हम IP Address के नाम से जानते हैं इसलिए हम इस IP Address से उस website तक पहुंच पाते हैं. IP Address यानि नम्बर काफ़ी लम्बा होता है जिसको याद कर पाना कठिन होता है इसलिए टेक्नोलॉजी बढ़ने के साथ साथ IP Address को छुपाकर एक नाम में कन्वर्ट कर दिया जिससे हम जल्दी याद रख सकें. और website के नाम को Domain Name कहते हैं. उदाहरण-
https://www.blogmeto.com में Blogmeto.com एक डोमेन नेम हैं.

Domain Name का काम क्या होता है?


"Domain Name का short रूप जिसे DNS (Domain Naming System) के नाम से जाना जाता है. हम इसके द्वारा अपनी website को Internet के माध्यम से identify कर सकतें हैं."

ज़ब आप किसी blog या वेबसाइट को internet ब्रॉउज़र में search करते हैं ब्रॉउज़र आपके वेबसाइट के नाम का  IP Address को internet service provider ( ISP) जैसे -idea, Vodafone, airtel आदि को server में पहुंचाने का काम करता है. इसके बाद internet service provider अपनी रिकवेस्ट google या bing search इंजन तक पहुंचाता है इस प्रकार Google search engine आपकी वेबसाइट के IP Address को कन्वर्ट करके आपकी वेबसाइट का नाम दिखाता है जिसे आप search कर रहें हैं. ये काम बहुत fast होता है

इसलिए आप google पर किसी वेबसाइट को search करते हैं तो वो आपके सर्च रिजल्ट के home page में जल्दी से आ जाता है.


Domain Name के प्रकार कितने हैं -


आज के जमानें की बात करें तो हमको Domain Name के मिल जाते हैं हैं जैसे टॉप लेवल के डोमेन नाम जिनका अंत में .com, .gov .net,  और .org आदि लगा होता है वहीं कंट्री लेवल के डोमन इससे भिन्न भी होते हैं जैसे .in, .us, .as आदि. टॉप लेवल के डोमेन नाम को पूरी दुनिया में फेमस माना जाना जाता है. और इनको इसलिए पसंद किया जाता है क्योंकि इनकी पहुँच पूरी दुनिया में होती है वहीं किसी देश को केन्द्रित करने के लिए कंट्री लेवल के डोमेन नाम लिए जाते हैं.
टॉप लेवल के डोमेन नाम

आज के time में domain name के कई प्रकार हो गए हैं top level के domain name जिसे लास्ट में जैसे - .com, .net, .org होते हैं. वहीं कंट्री लेवल domain वो होते हैं जिसके अंत में .in, .us, .as आदि लगा होता है. Top lavel के domain पूरी दुनियां में use किया जाता है जिसमें - .com सबसे ऊपर है इन्हे पूरी दुनिया ईसलिए पसंद करती है क्योंकि ये सारे world में प्रदर्शित हो सकें नहीं तो कंट्री लेवल domain एक निश्चित देश के लिए होते हैं जैसे इंडिया का domain name को .in और ऑस्ट्रेलिया के domain (.us) बोलते हैं.


टॉप लेवल के डोमेन नाम  :-

  • .Com (Commercial)
  • .Gov (Government)
  • .Net (Network)
  • .Org (Organization)
  • .Edu (Educational)
  • .info (information) आदि.

कंट्री लेवल के डोमेन नाम

  • .In (India)
  • Au (Australia)
  • Gb (Great Britain)
  • cn (china)
  • Us (United State America)
  • ru (russia)  आदि.


इसे भी पढ़ें :

Sub Domain क्या होता है?

DNS के बारे में मैंने आपको बताया है मुझे लगता आप इसके बारे में बहुत कुछ समझ गए होंगे और ये भी जानकारी लेना चाहतें है कि Sub domain क्या होता है ये कैसे काम करता है तो आपको बता दूं कि Sub domain को हम domain का दूसरा भाग कह सकतें हैं आप domain buy कर सकतें हैं लेकिन Sub domain को नहीं करते क्योकि domain के दो हिस्से करके ही Sub domain का निर्माण होता है. आप ऐसा भी बोल सकतें हैं कि domain बड़ा भाई और Sub domain  छोटा भाई होता है.

उदाहरण के तौर पर blogmeto.com एक टॉप लेवल का डोमेन नाम है अगर इसे sub domain के रूप में देखा जाये तो ये इस प्रकार होगा hi.blogmeto.com या eng.blogmeto.com हो सकता यदि आप domain buy कर लेते हैं तो अपनी मर्जी से उसका Sub domain बना सकतें हैं उसी तरह आप हिंदी domain name भी खरीद सकतें हैं जैसे -हिंदीहोस्ट.com और मेकहिंदी.com आदि


Domain Name कैसे खरीदे?

यदि आप इंडिया में रहते हैं तो आप बड़े आराम से Net Banking या डेबिट कार्ड से domain name buy कर सकतें हैं. India में दो मशहूर domain प्रोवाइडर bigrock और GoDaddy हैं जिनसे आप domain buy कर सकतें हैं. ये बहुत best domain प्रोवाइडर हैं (इंडिया के ). क्योंकि इनकी सर्विस बहुत अच्छी मानी जाती है.

इन दोनों कंपनी से आप (.Com) और(. in) जैसे high quality domain को only 99 रूपये में buy कर सकतें हैं.  इसके आलावा ये वेबसाइट domain name बेचने का बिजनेस भी करती हैं आप इसमें domain कम पैसे में खरीदकर अधिक पैसे में बेचकर अच्छे खासे पैसे भी कमा सकतें हैं.

अगर कोई domain provider पैसे कमाने का मौका दे तो इससे बढ़िया बात क्या होगी. इसी वजह से अधिकतर लोग इसी best कम्पनी से अपना मनपसंद domain name खरीदतें हैं.

ये भी पढ़े –

दोस्तों आपको पता चल गया होगा कि इस आर्टिकल में Domain Name क्या है -what is domain name-Hindi में ऑनलाइन जानकारी दी. इस पोस्ट को बढ़ने के बाद आपको domain name खरीदने में आसानी होगी. आप आसानी से domain name का चुनाव कर सकतें हैं. आपको domain name खरीदने में healp करने के लिए internet में कई ऑनलाइन tools मिल जाते हैं जिसके द्वारा आप परफेक्ट domain name choose कर सकतें हैं.

में आपको कुछ domain name janreter website बताता हूं जिनकी मदद से आप अच्छा domains choose kr सकतें हैं -

आप इन वेबसाइट से टॉप लेवल डोमन का चुनाव कर सकतें हैं.


FAQ For domain name in hindi definition :-

Q. डोमेन नेम से आप क्या समझते हैं?/डोमेन का मतलब क्या होता है?

Ans. डोमेन नेम को हम स्पेस एक वृक्ष समझ सकतें हैं जो अपने अंदर IP adress के रूप में डोमेन नामों को लिए होता है. जिसमें हम domain name का चुनाव करते हैं. ज़ब आप  ब्‍लॉगर ( Blogger) और वर्डप्रेस ( WordPress ) दोनों पर अपनी वेबसाइट बनाते हैं तो उसके लिए एक best domain name की जरूरत होती है जिसे आप इन होस्टिंग में use कर सकतें हैं.


Q. डोमेन कितने प्रकार के होते हैं?

Ans. डोमेन दो प्रकार के होते हैं:

  1. Domain
  2. Sub Domain
Domain main होता है और sub Domain उसी का छोटा हिस्सा होता है जैसे मेरा डोमेन है (blogmeto.com) यदि मुझे इसका Sub Domain चाहिए तो वो  hi.blogmeto.com या eng.blogmeto.com होगा.


Q. इंटरनेट सोसाइटी द्वारा डोमेन को कितने भागों में बांटा गया है?

Ans. इंटरनेट सोसाइटी द्वारा डोमेन के दो भाग Domain और Sub Domain  हैं.


Q. डोमेन कैसे बनाएं?/ डोमेन नाम कैसे बनाये?

Ans. ज़ब आप वेबसाइट या blog बनाते हैं, तो आपको एक नाम की जरूरत पड़ेगी उस नाम को domain name कहते हैं. यदि उसका नाम ज्यादा बड़ा होगा तो याद करना बेहद मुश्किल होगा इसलिए डोमेन नाम 6 से लेकर 10 के शब्दों का होना चाहिए. ऐसी बहुत सी ऑनलाइन वेबसाइट हैं जिससे आप डोमेन नाम बना सकतें हैं या domain name जनरेट कर सकतें हैं.


Q. Dns क्या है या DNS का फुल फॉर्म क्या है?

Ans. DNS एक Domain Name का short words है. DNS का पूरा नाम  (Domain Naming System) के नाम से पहचाना जाता है.


Q.डोमेन नाम की परिभाषा क्या है?

Ans. ज़ब आप डोमेन नाम सर्च करते हैं, तो Domain name  किसी वेबसाइट के ip adress के नंबर को ना दिखाकर उस वेबसाइट का नाम दिखाता है उस नाम को डोमेन नाम कहते हैं.


Q. डोमेन नाम की आवश्यकता क्यों होती है?

Ans. किसी blog/ वेबसाइट को उसका नाम देने के लिए डोमेन नाम की आवश्यकता होती है.


Q. डोमेन नाम example दीजिये?

Ans. डोमेन नाम example इस प्रकार हैं -

International domain example:

  • blogmeto.Com  :(Commercial)
  • blogmeto.Gov :(Government)
  • blogmeto.Net :(Network)
  • blogmetoOrg :(Organization)
  • blogmeto.Edu :(Educational)
  • blogmeto.info :(information) आदि.

Country लेवेल डोमेन नाम के example :

  • blogmeto.In (India)
  • blogmeto.Au (Australia)
  • Blogmeto.Gb (Great Britain)
  • Blogmeto.cn (china)
  • Blogmeto.Us (United State America)
  • Blogmeto.ru (russia)
    •  आदि.
Note : ये domain मैंने example के लिए बताया है इसमें रियल कुछ भी नहीं है.


Q. डोमेन नाम रजिस्ट्रेशन कैसे होता है?

Ans. अपने blog या वेबसाइट में डोमेन नाम रजिस्ट्रेशन करने से पहले उसमें IP adress डालकर वेबसाइट / blog में डोमेन नाम रजिस्ट्रेशन हो जाता है.

आपको एक बात और बताऊं ज़ब आप domain name चुने तो वो बहुत कम शब्दों का होना चाहिए क्योंकि ज्यादा बड़े शब्द लोग याद नहीं रख पाते हैं.  इसलिए कम शब्दों का हो तो अच्छा रहेगा.


तो दोस्तों मैंने आपको इस पोस्ट Domain Name क्या है?, Domain Name कैसे खरीदें? और Domain Name किस website से खरीदें? आदि जानकारी दी है दोस्तों आपको ये post कैसा लगा अच्छा लगा है तो अपने दोस्तों,करीबी रिस्तेदारों आदि को सोशल मिडिया प्लेटफॉर्म जैसे -फेसबुक, ट्विटर आदि पर share करना  नहीं भूलना.

दोस्तों आपके मन में पोस्ट से संबंधित सवाल या कोई जानकारी चाहिए तो आप कमेन्ट बॉक्स में जरूर कमेन्ट करें में आपको तुरंत रिप्लाई करूंगा.धन्यवाद.

Read more :

✍ अजीत सिंह

दोस्तों, मैं Blogger हूँ ओर Blogmeto.Com मेरा Blog है और मुझे इस Blog के माध्यम से लोगों की Help करना बहुत अच्छा लगता है. इस Blog पर Internet, Computer,पैसे कैसे कमाएं (Make Money Online), website से पैसे कैसे कमाएं, seo कैसे करें,Technology, Youtube और Adssence की जानकारी के साथ-ही-साथ Inspiration Life Stories सम्बंधित सभी उपयोगी जानकारी Hindi भाषा में शेयर की जाती है.

Post a Comment

Previous Post Next Post